लखनऊ(लाइवभारत24)। इक्विटास स्‍मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड (”बैंक”), जो 31 मार्च 2019 के आंकड़ों के मुताबिक बैंकिंग आउटलेट्स की संख्‍या की दृष्टि (स्रोत:क्रिसिल रिपोर्ट) से भारत का सबसे बड़ा स्‍मॉल फाइनेंस बैंक (”एसएफबी”) है, चेन्‍नई सुपर किंग्‍स का आधिकारिक रिटेल बैंकिंग पार्टनर है। बैंक, चेन्‍नई सुपर किंग्‍स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आधिकारिक रिटेल बैंकिंग पार्टनर है और यह अपने ग्राहकों से विभिन्‍न उत्‍पादों की पेशकश करता है। इस पेशकश में वीडियोकेवाईसी, फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर पहले की तुलना में अधिक ब्‍याज दर, बचत खाता व अन्‍य।

मुरली वैद्यनाथन प्रोडक्‍ट एंड वेल्‍थ के प्रेसिडेंट और कंट्री हेड 

इक्विटास स्‍मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड के – ब्रांच बैंकिंग, लायबिलिटीज, प्रोडक्‍ट एंड वेल्‍थ के प्रेसिडेंट और कंट्री हेड  मुरली वैद्यनाथन ने कहा, ”इक्विटास एसएफबी को इस बात की घोषणा करते हुए प्रसन्‍नता हो रही है कि इसे चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के आधिकारिक रिटेल बैंकिंग पार्टनर के रूप में नियुक्‍त किया गया है। चेन्‍नई सुपर किंग्‍स, आईपीएल में सबसे अधिक फॉलो किये जाने वाले फ्रेंचाइजी में से एक है, जिसके अनगिनत फॉलोअर्स हैं। हमारा मानना है कि चेन्‍नई सुपर किंग्‍स का आधिकारिक रिटेल बैंकिंग पार्टनर बनने से हमें इंडियन प्रीमियर लीग को फॉलो करने वाले व्‍यापक ऑडियंस तक पहुंचने में मदद मिलेगी। हमारा मानना है कि जिस तरह क्रिकेट को सभी आयु वर्ग के लोगों द्वारा फॉलो किया जाता है, उसी तरह इक्विटास एसएफबी के विभिन्‍न उत्‍पाद भी ग्राहकों की सभी तरह की जरूरतें पूरी करने के लिए उपयुक्‍त हैं।” चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, श्री केएस विश्‍वनाथन ने कहा, ”हमें इक्विटास स्‍मॉल फाइनेंस बैंक को अपने आधिकारिक रिटेल बैंकिंग पार्टनर के रूप में पाने की खुशी है। हमें सुदीर्घ और फलप्रद सहयोग की उम्‍मीद है।” जिस तरह चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के प्रमुख खिलाड़ी, श्री महेन्‍द्र सिंह धोनी का लक्‍की नंबर 7 है, उसी तरह बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को 888 दिनों के लिए फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 7.35 प्रतिशत वार्षिक ब्‍याज और वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए 0.60 प्रतिशत अतिरिक्‍त ब्‍याज प्रदान किया जाता है। श्री मुरली वैद्यनाथन आगे बताते हैं, ”ग्राहकों के लिए इंडस्‍ट्री में प्रतिस्‍पर्द्धी दर उपलब्‍ध कराने के अलावा, हमने स्‍मार्ट डिजिटल तकनीक को भी प्रभावी तरीके से उपयोग में लाया है, ताकि ग्राहकों को शारीरिक स्‍पर्श का खतरा न हो या शाखाओं में नहीं जाने पाड़े। हमारा मानना है कि सेल्‍फी एफडी, ‘डू-इट-ऑन-माय-ओन’ जेनरेशन के लिए उपयुक्‍त है। इन उत्‍पादों में ग्राहक अपने अप्रयुक्‍त फंड्स को डालकर ब्‍याज अर्जित कर सकते हैं।”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी कमेंट दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें