लखनऊ(लाइवभारत24)। आगामी गणेश चतुर्थी महोत्सव और मौजूदा महामारी के चलते आवागमन की बाधाओं के मद्देनज़र मराठी न्यूज़ चैनल एबीपी माझा ने आज एक विशेष डोनेशन पहल (दान अभियान)- ‘बी अ विघ्नहर्ता’ (बाधाओं को दूर करने वाले बनो) का लॉन्च किया है। युनिसेफ के सहयोग से आयोजित इस पहल के तहत महामारी से प्रभावित लोगों को सहयोग प्रदान करने केे लिए 16 दिन के टीवी अभियान के माध्यम से धनराशि जुटाई जाएगी। इस धनराशि का उपयोग महाराष्ट्र राज्य में युनिसेफ की जीवन रथ पहल (रिलीफ एण्ड रिस्पॉन्स ऑन व्हील्स) के तहत संवेदनशील परिवारों को सहयोग प्रदान करने के लिए किया जाएगा। यह पहल 60 सार्वजनिक एवं निजी एनजीओ को एक ही मंच पर लाकर उन लोगों तक ड्राय राशन किट, हाइजीन किट, कंडीशनल कैश ट्रांसफर और आजीविका संरक्षण की सुविधा पहुंचाएगी जो इस मुश्किल दौर में इन सेवाओं की पर्याप्त उपलब्धता से वंचित हैं। महाराष्ट्र में महामारी से निपटने के लिए 11 दिवसीय गणेश चतुर्थी महोत्सव के दौरान सभी पंडालों/ मंदिरों को सामाजिक दूरी के नियमों का अनुपालन करने, भीड़-भाड़ न जुटाने, मूर्तियों के आकार को कम करने की सलाह दी गई है। हालांकि ये ऐहतियात सार्वजनिक स्वास्थ्य के परिप्रेक्ष्य से बेहद महत्वपूर्ण है, किंतु इनका बुरा असर उनक कारीगरों और छोटे कारोबारियों पर पड़ेगा जो इस सालाना महोत्सव से अपनी आजीविका कमाते हैं। एबीपी माझा 6 अगस्त 2020 से 21 अगस्त 2020 के बीच इस अभियान का संचालन करेगा। न्यूज़ चैनल 1350़ मिनट के कंटेंट का प्रसारण करेगा, जिसमें महामारी से पीड़ित लोगों की कहानियों को दर्शाया जाएगा और दर्शकों से आग्रह किया जाएगा कि ज़्यादा से ज़्यादा दान देकर महामारी से प्रभावित इन परिवारों की मदद के लिए हाथ बढ़ाएं। इस डोनेशन अभियान के बारे में बात करते हुए श्री अविनाश पाण्डेय, सीईओ, एबीपी नेटवर्क ने कहा, ‘‘एक ज़िम्मेदार नेटवर्क होने के नाते, हम सामुदायिक कल्याण के अपने प्रयासों के तहत इस पहल का आयोजन कर रहे हैं। हम भारत की आर्थिक राजधानी में इस सबसे बड़े महोत्सव के मद्देनज़र महामारी से सबसे ज़्यादा प्रभावित बच्चों और परिवारों को तुरंत सहायता उपलब्ध कराना चाहते हैं। त्योहार का उत्साह शुरू हो गया है, और इस समय में हम निम्न आयवर्ग वाले लोगों के जीवन में सुधार और उनके कल्याण में योगदान देना चाहते हैं जो अपनी आजीविका के लिए गणपति महोत्सव पर निर्भर करते हैं। हमें उम्मीद है कि हमारा यह प्रयास उनके जीवन को बेहतर बनाने में मदद करेगा।’’

कोई जवाब दें

कृपया अपनी कमेंट दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें