लखनऊ(लाइवभारत24)। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन अपनी कार्यप्रणाली में गुणात्मक सुधार लाने के लिए विभिन्न स्तरों पर समेकित प्रयास कर रहा है, जिसके अपेक्षित परिणाम प्राप्त हो रहे हैं। समयपालन रेल प्रणाली की उत्कृष्टता का एक प्रमुख पैमाना एवं यात्री संतुष्टि का महत्वूपर्ण कारक है। समयपालन के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करते हुए 12 जुलाई से पूर्वोत्तर रेलवे ने यात्री गाडिय़ों के परिचालन में 100 प्रतिशत आदर्श लक्ष्य को प्राप्त करने में सफलता प्राप्त की। इसी प्रकार उद्योग एवं व्यापार जगत को रेल परिवहन की ओर आकर्षित करने की दिशा में मालगाडिय़ों के संचालन गति में वृद्धि का प्रयास किया जा रहा है। मालगाडिय़ों की 12 जुलाई को औसत संचालन गति लगभग 50 किमी प्रति घंटा रही जो स्वयं में एक उपलब्धि है। लखनऊ मंडल द्वारा संचालित 23 यात्री गाडिय़ों में से 15 गाडिय़ाँ बिफोर टाइम तथा 01 गाड़ी राइट टाइम चलाई गई। इसी प्रकार दो गाडिय़ों ने संचालन समय को मेकअप किया, जबकि 05 गाडिय़ाँ पूर्वोत्तर रेलवे को देर से मिली फिर भी इसे अपने सिस्टम पर समय से चलाया गया। लखनऊ मंडल द्वारा संचालित प्रमुख गाडिय़ों में 0101, 01016 सहरसा नई दिल्ली सहरसा विशेष गाड़ी, 02555, 02556 गोरखपुर रोहतक गोरखपुर विशेष गाड़ी, 02533, 02534 लखनऊ छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस लखनऊ विशेष गाड़ी तथा 02557 मुज फरपुर दिल्ली विशेष एक्सप्रेस गाड़ी आदि स िमलित हैं। इसी क्रम में वाराणसी मंडल द्वारा संचालित की जा रही 26 टे्रनों में से 20 टे्रनें बिफोर टाइम पहुंची, 04 गाडिय़ाँ राइट टाइम चलीं, जबकि 01 गाड़ी के संचालन समय को मेकअप किया गया। 01 गाड़ी पूर्वोत्तर रेलवे को देर से मिली फिर भी इसे अपने सिस्टम पर समय से चलाया गया। वहीं इज्जतनगर मंडल द्वारा संचालित 01092 काठगोदाम देहरादून विषेष एक्सप्रेस गाड़ी राइट टाइम संचालित की गई जबकि 02091 देहरादून काठगोदाम विशेष एक्सप्रेस काठगोदाम विफोर टाइम पहुंची।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी कमेंट दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें